डॉ.अब्दुल कलाम के आत्मकथा से लिए गये कुछ प्रेरणादायक कथन, जो जिंदगी की रुख बदल दे.

डॉ. अब्दुल कलाम जी की आत्मकथा अग्नि की उड़ान सिर्फ एक किताब नहीं है बल्कि उन तमाम लोगों के लिए संजीवनी बूटी है जो जिंदगी में थोड़ी सी परेशानी के बाद हताश और परेशान होकर सब कुछ छोड़ कर बैठ जाते हैं.

जिंदगी में तमाम उतार-चढ़ाव के बावजूद भी वे पूरी लगन से देश की सेवा में लगे रहे और भारत को एक नयी मुकाम पर पहुचाया.

प्रत्येक भारतीय को अब्दुल कलाम जी की बायोग्राफी:विंग्स ऑफ़ फायर पढ़नी चाहिये, उन्होंने इस किताब में अपने जीवन के बहुत से अनुभव को साझा किया है जिसे पढ़ कर प्रत्येक व्यक्ति बहुत कुछ सीख सकता है,और जिंदगी में बहुत प्रगति कर सकता है.

आज हम इसी किताब के कुछ प्रेरणादायक विचार आपके साथ शेयर करने जा रहे है.
Agni Ki Udaan Thoughts
Dr. Abdul Kalam Thoughts




Dr. Abdul Kalam Thoughts From Wings Of Fire



  • जो करो उस पर यकीन रखो,या जिस पर यकीन हो वही करो.
  • मैं इस बात में यकीं रखता हूँ कि हमारे ऊपर भी एक आला ताकत (GOD) है, एक महान शक्ति है जो हमें मुसीबत,मायूसी और नाकामियों से बाहर निकाल कर सच्चाई के मुकाम तक पहुचाती है.
  • कामयाब रहनुमा बनने के लिये जरुरी है कि दिन का काम जब खत्म हो आप पिछले दिन का जायजा लें और अगले दिन के काम की तैयारी करें.
  • जिंदगी कामयाब होने या नतीजें हासिल करने के लिये 3 चीजों पर काबू होना बहुत जरुरी है-  1:- ख्वाहिस 2:- यकीन 3:- उम्मीद
  • काश हर हिन्दुस्तानी के दिल में चलती हुई लौ को पर लग जाए और उस लौ की परवाज से सारा आसमां रौशन हो जाये.
  • पहले लोग हंसेंगे, हो सकता है मजाक भी उड़ायें, फिर आपका विरोध करेंगे.लेकिन इसके बाद भी आप पूरी शिद्दत से लगे रहे तो वही लोग आपकी कामयाबी की गाथा भी लोगों को सुनायेंगे.
  • कोई शख्स कितना भी छोटा क्यों ना हो,उसे हौसला नहीं छोड़ना चाहिये.
  • मसले,मुश्किलें जिंदगी का हिस्सा है, और तकलीफें कामयाबी की सच्चाई है.
  • किसी भी इजाद में गलतियाँ होना स्वाभाविक है, लेकिन हर गलती कामयाबी की तरफ एक और कदम उठाती है और एक सीढ़ी बन जाती है.
  • पहाड़ की चोटी पर उतरने से, पहाड़ पर चढ़ने का तजुर्बा नहीं मिलता, जिंदगी पहाड़ की चढानों पर मिलती है , चढ़ानो पर ही तजुर्बे मिलते हैं और जिंदगी मझती है और टेक्नोलॉजी तरक्की करती है.
  • चोटी पर पहुँचने की कोशिश ही में चढ़ानो का इल्म ( ज्ञान ) हासिल होता है.
  • मैं मनाता हूँ कि बहुत से इंजीनियर मौका मिलते ही वतन छोड़ जाते हैं,ज्यादा रूपया कमाने के लिये लेकिन ये आदर,इज्जत और मोहब्बत क्या कमा सकते हैं जो उन्हें अपने वतन से मिलती है?
  •  अपने काम को अपना फक्र/गर्व समझें.
  • इल्म वह पूंजी है जिसे कोई छीन नहीं सकता.
  • जब आफत आये तो आफत की वजह समझने की कोशिश करो,मुश्किलें हमेशा खुद को परखने की मौका देती है.
  • जिन बातों से तकलीफ होती है उनसे तालीम भी मिलती है.
  • कोई शख्स अपनी खूबी नहीं दिखा सकता अगर आप उसे हमेशा झिड़कते ही रहें.
  • उसूल और पाबन्दी, पाबन्दी और सख्ती ,सख्ती और जुल्म के बीच की लाइन बड़ी महीन है उसकी पहचान बहुत जरुरी है.

तो दोस्तों आपको कलाम जी के ये प्रेरणादायक विचार कैसे लगे हमें कमेंट कर के बता सकते है.
अगर आप डॉ. अब्दुल कलाम जी की ऑटोबायोग्राफी अग्नि की उड़ान को पढ़ना चाहते हैं तो नीचे दिए गये लिंक पर क्लिक कर के अमेज़न से इस किताब को घर बैठे मंगा सकते हैं.

                                                           
गुलजार साहब ने डॉ. कलाम जी की आत्मकथा को बहुत ही खुबसूरत आवाज में बयां किया है,अगर आप पूरी किताब को पढ़ना नहीं चाहते हैं तो नीचे दिए गए वीडियो में बायोग्राफी सुन सकते हैं.

        


कुछ और ज्ञानवर्धक विचार जो आपको पढ़ना चाहिये-

3 comment

avatar
avatar
avatar

Latest Tips And Tricks